हेल्दी स्किन के लिए योगासन

Yoga For Healthy Skin In Hindi.

बिलिकासन 

1. वज्रासन में बैठ जाएं |

2. हाथों को समान दूरी पर रखते हुए जमीन पर टिकाकर शरीर को आगे की तरफ ले जाएं और पैरों को भी समान दूरी पर रखकर इस तरह की पोजीशन बनाएं जैसे चार पैरों पर खड़ा हुआ जाता है |

3. सांस को बाहर छोड़ते हुए पीठ को कमान के आकार में लाएं व सिर को कंधों के बीच ले जाएं | ठुड्डी को छाती की तरफ झुकाएं | यह प्रक्रिया धीरे-धीरे और सावधानीपूर्वक करें |

4. अब सांस लेने के लिए सिर को ऊपर उठाएं और पीठ को नीचे की तरफ़ झुकाएं | सांस छोड़ने के लिए फिर वही प्रक्रिया अपनाएं | 30 सेकंड तक यह करें और फिर बालासन में आराम करें |

सावधानी: यदि घुटनों पर ज्यादा वजन पड़ रहा हो और दर्द हो तो आसन कंबल पर करें |

फायदे: रीढ़ को लचीला बनता है | बैक और पेल्विक भाग को मजबूत बनाता है |

दंडासन

जमीन या दरी पर बैठ जाएं | पैरों को बाहर की तरफ स्ट्रेच करें, उंगलियाँ अंदर की तरफ सीधी रखें | नितंबों के दोनों तरफ हथेलियों को जमीन पर रखें | पीठ एकदम सीधी रखकर सिर भी सीधा रखें और सामने की तरफ देखें | सांस लें, 20-30 सेकंड तक रोकें, फिर छोड़ें |

सावधानी: अगर आपको पीठ सीधी रखने में दिक्कत हो या पीठ मोड़कर बैठने की आपकी आदत हो, तो कंबल बिछाकर बैठें या फिर अतिरिक्त स्पोर्ट के लिए दीवार का सहारा लेकर बैठें |

फायदे: पैरों को टोन करके पोश्चर को भी सही करता है |

हलासन

1. शवासन में लेट जाएं | दोनों पैर आपस में जुड़े हुए हों | हथेलियों को ज़मीन पर रखें |

2. सांस छोडें, पैरों को उठाते हुए 90 डिग्री का कोण बनाएं, फिर उन्हें और मोड़ते हुए छाती और चेहरे के ऊपर ले आएं |

3. पीछे ले जाकर पैरों को ज़मीन पर टिका दें | सांस सामान्य गति से ले |

सावधानी: अगर इस आसन को करने में दिक्कत या दर्द हो रहा हो तो यह आसन न करें | माहवारी के दौरान भी यह आसन न करें |

फ़ायदेः फेफड़ों को स्वस्थ व रोगमुक्त रखता है | शरीर में ऊर्जा का संचार करते हुए रक्त शुद्धीकरण के साथ-साथ लिवर को भी स्वस्थ रखता है |

शवासन

1. ज़मीन पर पीठ के बल सीधे लेट जाएं | दोनों पैरों के बीच थोड़ी दूरी रखें |

2. हाथों को जांघ के समानांतर थोड़ी दूरी पर रखें और हथेलियां ऊपर की ओर खुली हों |

3. आंखें बंद, गर्दन सीधी और पूरे शरीर को तनावरहित रखें |

4. जितनी देर संभव हो, इसी अवस्था रिलैक्स करें |

सावधानी: लोअर बैक से पीड़ित लोगों को यह आसन नहीं करना चाहिए |

फ़ायदेः सिरदर्द, थकान और अनिद्रा को दूर भगाने में यह आसन सहायक है | शरीर और मन के बीच सामंजस्य होने के कारण यह आसन तनाव को कम करता है | हाई ब्लडप्रेशर को कम करने व हेल्दी स्किन के लिए बहुत फ़ायदेमंद है |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*