सीधे व मुलायम बालों के लिए उपाय Baal Sidhe Mulayam Kaise Kare

Technique For Straight Hair In Hindi.

Baal Sidhe Mulayam Kaise Kare, Karne Ka Tarika Jaane Yahan Par

निखरा-निखरा सौंदर्य चाहती हैं, पर मन उलझ जाता है । आपके सौंदर्य को बरकरार रखने के लिए सौंदर्य विशेषज्ञ दे रहीं हैं कुछ उपयोगी सुझाव ।

सीधे और मुलायम बालों का फैशन काफी समय से है। धुंघराले व वेवी बालों को हेअर स्ट्रेटनिंग तकनीक से सीधा किया जा सकता है । तकनीकें क्या हैं और किस तरह से ये बालों पर अपना प्रभाव छोड़ती हैं, आइए जानें ।

ड्रायर का प्रयोग (Balon Par Hair Dryer Ka Prayog)

गीले बालों को विभिन्न भागों में बांट लेते हैं । हर भाग के सिरे को ब्रश पर लपेट कर ड्रायर किया जाता है । फिर हर भाग को सीधा पकड़ कर ड्रायर किया जाता है । अगले शैंपू तक बाल सीधे रहते हैं । लेकिन जरूरत से ज्यादा हीट देने से बालों में रूखापन आ जाता है और बाल दोमुंहे हो कर टूटते भी हैं ।

केमिकल हेअर स्ट्रेटनर (Chemical Hair Straightening Process And Side Effects)

इसमें हरेक बाल की शाफ्ट में रसायन प्रवेश करता है और बालों की अंदरूनी परतों की बनावट को प्रभावित करता है, जिससे कर्ली या वेवी बाल सीधे हो जाते हैं । इसमें थोड़े तेज रसायनों को सीधा बालों पर लगाया जाता है । इसका असर 6 महीने तक रहता है । स्ट्रेटनिंग हमेशा हेअर एक्सपर्ट से ही करायी जानी चाहिए । कभी भी बालों में कलर और स्ट्रेटनिंग एक साथ ना कराएं । इन दोनों के बीच में कम से कम 2-3 महीने का अंतर जरूर होना चाहिए ।

क्रीम व न्यूट्रलाइजर (How To Use Hair Neutralizer Cream)

बालों को स्ट्रेट करने के लिए बेस क्रीम/वैसलीन, न्यूट्रलाइजर, शैंपू व कंडीशनर का प्रयोग भी किया जाता है । इसमें बालों को स्ट्रेट करने से पहले स्कैल्प पर वैसलीन या बेस क्रीम लगाते हैं । वैसलीन को स्कैल्प के साथ माथे, गरदन व कानों पर भी लगाना चाहिए, जिससे ये गलती से रसायन लग जाने पर जले नहीं । इसके बाद हेअर रिलेक्सिंग/स्ट्रेटनिंग फॉर्मूला लगाया जाता है । यह बालों की मिडिल लेअर में पहुंच कर उन्हें मुलायम बनाता है और वेवी व धुंघराले बाल भी खुल जाते हैं । इस केमिकल फॉर्मूले को बालों में तकरीबन 7-8 मिनट के लिए लगाया जाता है ।

इससे ज्यादा समय के लिए लगाने से बालों को क्षति पहुंच सकती है । फिर बालों को अच्छे से धोया जाता है, जिससे बालों से रसायन पूरी तरह निकल जाए । इसके बाद बालों में न्यूट्रलाइजर लगाया जाता है, जिससे बालों का सामान्य पीएच संतुलन बना रहे । फिर कंडीशनर लगाते हैं । कई बार पहले से क्षतिग्रस्त बालों में कंडीशनर पहले और बाद में दोनों बार लगाया जाता है । कंडीशनर से बालों में प्राकृतिक तेल बनने लगते हैं, जो इस प्रक्रिया के दौरान बह गए थे । अब मनचाहा हेअर स्टाइल बना सकती हैं । बालों की स्टाइलिंग को भी अगर मिला लिया जाए, तो कुल मिला कर इस पूरी प्रक्रिया में, जिसमें स्ट्रेंड टेस्ट से ले कर स्टाइलिंग तक का समय लिया जाए, तो 4-5 घंटे लग जाते हैं । शैंपू करने के बाद बालों को ब्लो ड्राई जरूर करें ।

रीबान्डिंग : रीबान्डिंग धुंघराले बालों व कई बार रासायनिक उपचार दिए गए बालों पर इतना असरदार नहीं रहता है । इस पूरी प्रक्रिया में कम से कम 4 से 8 घंटे का समय लगता है और इसका असर सालभर तक रहता है, उसके बाद नए बालों को रीटचिंग से सेट किया जा सकता है । रीबॉन्डिग में बालों को पहले धोया जाता है । फिर प्रोटीन को बालों में लगाया जाता है, जिससे बाल पूरी तरह ढक जाते हैं । इसके बाद बालों पर निर्धारित समय के लिए रासायनिक सॉल्यूशन लगाते हैं । फिर धोने के बाद बालों को इतना ही ब्लो ड्राई करते हैं, जिससे बाल हल्के गीले भी रहें । उसके बाद हेअर स्ट्रेटनिंग थर्मल आयरन का प्रयोग किया जाता है ।

जब सारे बाल स्ट्रेट हो जाते हैं, तो एक अन्य सॉल्यूशन बालों में लगाया जाता है, जो बालों को दोबारा बनाता है, जिसे रीबॉन्डिग कहते हैं । फिर बालों को धो कर कंडीशन किया जाता है । इस प्रक्रिया के बाद बालों को कम से कम 2-3 दिन तक ना धोएं । अमूमन हेअर स्ट्रेट कराने की प्रक्रिया में 1,500 से 5,000 रुपए तक का खर्च आता है ।

स्ट्रेटनिंग आयरन (Iron Se Balo Ko Sidha Karne Ke Upay)

हेअर स्ट्रेटनिंग आयरन से बालों में सीधी हीट दे कर उन्हें स्ट्रेट किया जाता है । सिरेमिक की रॉड्स भी इस्तेमाल में लायी जाती हैं । ये महंगी जरूर हैं, लेकिन बालों को कम नुकसान पहुंचाती हैं । सावधान रहें कि सिरेमिक आयरन रॉड नकली भी मिलती हैं ।

बार-बार स्ट्रेटनिंग ना कराएं

सौम्य शैंपू व एक्सट्रा रिच कंडीशनर प्रयोग में लाएं । हफ्ते में एक बार बालों को हॉट ऑइल थेरैपी दें । बाल सुलझाने के लिए चौड़े दांतोंवाला ब्रश इस्तेमाल में लाएं । बाल दोमुहें होते ही कटवा दें | आंवला, बेल, ब्राह्मी, हिना, मिंट, मारगोसा, त्रिफला युक्त आयुर्वेदिक पाउडर प्रयोग में लाएं । यह स्कैल्प को साफ करके बालों को कंडीशन करता है, जिससे बाल मजबूत होते हैं ।

Tags : Baal Sidhe Mulayam Kaise Kare, Baal Sidhe Karne Ka Tarika, balo ko sidha karne ke upay, balo ko straight karne ka tarika

12 Comments

    • Sir mere bal to jamte hi nhi jbtk o gile rhegee tb tk shi jamege or sukhne ke bad ghughrale tipe ho hate he
      Iska koi upay ho to bataoooo
      4 bar to gnjaaaaa krwa liyaaa

  1. Mera face or sir bhut oily h but only hed m problem h bal oily nhi h bal ekdm rukhe sukhe h uljhte bhut h or dendrf bhi h koi homemade upay btaiye plz nd shampoo conditionar facewash ka nam bhi recommend kriye plz help me mai bhut preshan ho gyi hu nd bal domuhe bhi hai plz plz plzzzz

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*