नाखूनों की देखभाल घरेलू उपचार से Nail Care Tips At Home Hindi Me

nails care tips

नाखूनों की देखभाल घरेलू उपचार से Nail Care Tips At Home Hindi Me – सौंदर्य निर्भर करता है स्वास्थ्य पर। एक स्वस्थ शरीर में ही उम्दा सौंदर्य और आकर्षण होता है। हाथों की खूबसूरती में नाखूनों का महत्वपूर्ण योगदान होता है और यह तभी संभव है जब आप पूरी तरह से स्वस्थ और नाखूनों के प्रति सजग हैं. पुरुषों की अपेक्षा स्त्रियां, नाखूनों के प्रति अधिक सचेत रहती हैं। गुलाब सरीखे, पुष्ट, आभायुक्त और मुलायम नाखून नारी-सौंदर्य को सहज ही रूप से बढ़ाते हैं और सौन्दर्य के प्रति उनके रुझान को दर्शाते हैं। सुन्दर नाखून से व्यक्ति के व्यक्तित्व का अनुमान लग जाता है कि वह अपनी सेहत के प्रति कितना जागरुक है।

नाखूनों की उचित देखभाल और उनकी खूबसूरती बनाए रखने वाले विशेष उपायों के बारे में यहां विधिवत बताया गया है। इनका लाभ उठायें-

 1. अधिकंतर स्त्रियां नाखूनों की खूबसूरती के लिए बाजारू नेल-पॉलिश लगाती हैं पर इससे नाखून कठोर और आभाहीन हो जाते हैं। उम्दा किस्म के पॉलिश ही प्रयोग में लाएं। कई अनभिज्ञ स्त्रियां पॉलिश करने से पूर्व अपने सारे नाखूनों को खुरचती हैं, ऐसा करना ठीक नहीं होता है। नाखून खुरचे नहीं।

2.  नाखूनों को बाह्य संक्रमणों से बचाएं। मैल से उपजे विषाणुओं, बैक्टीरिया, सड़े पदाथों व केमिकल आदि से सदा दूर रहे । संदेह की अवस्था में दस्ताने का प्रयोग करें, इससे नाखून सुरक्षित रहेंगे।

3.  नींबू का रस, गुलाब जल, खीरे का रस, मेंहदी की पत्तियों का रस नाखूनों को आर्द्र रखने में सहायक है। कभी-कभार ऐसे रसों का इस्तेमाल करें। इसके लगातार प्रयोग से नाखून निखरते हैं।

4. बाहरी हानिकारक प्रभावों से बचाने के क्रम में नाखूनों की सुरुचिपूर्वक तेल मालिश उचित और अपेक्षित है। नहाने के बाद नाखूनों पर तेल लगाएं। शुद्ध सरसों या तिल का तेल उपयुक्त है, इससे          नाखूनों में नमी बनी रहती है और नाखून सख्त नहीं पड़ते हैं।

5. नाखूनों को मुलायम बनाए रखने के लिए लेप-अवलेह भी प्रयोग में लाएं। अपनी अंगुलियों पर मेंहदी रचाने वाली स्त्रियों के नाखूनों में बेहतर चमक होती है। मेंहदी का लेप लगाएं। पालक-साग का लेप भी प्रभावकारी है, पालक की दो-चार पत्तियां पीस लें, उसमें जैतून का तेल मिलाकर नाखूनों पर लेप लगायें और थोड़ी देर इन्हें सूखने दें। इसी तरह कच्ची हल्दी का उबटन बनाएं और उसमें शुद्ध सरसों का तेल डालें। यह उबटन नाखूनों की चमक बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

6.  कपड़े धोने, सब्जी काटने जैसे कार्यों से भी नाखून खराब होते हैं। हानिकारक साबुन और पाउडर, अधिक खारे जल, गर्म जल, अधिक ताप से नाखूनों को बराबर बचायें। इसी तरह अधिक ठंडा पानी भी खतरनाक है। अधिक गर्म पानी के तुरन्त बाद पानी में नाखूनों को कभी प्रविष्ट न कराएं क्योंकि तनाव और दबाव पाकर नाखून सख्त पड़ जाते हैं।

7. मैल या गंदगी नाखूनों के शत्रु हैं। नाखूनों में मैल न जमने दें। हाथों, खासकर अंगुलियों की विशेष साफ-सफाई करें पर अधिक गर्म पानी से नाखूनों को बचाएं। जैसे शरीर का स्नान होता है, उसी तरह नाखून-स्नान होना चाहिए। इस विशेष स्नान के लिए ठंडे पानी का ही इस्तेमाल करें। मुलायम ब्रश से मैल हटाएं। अधिक साबुन, पाउडर का प्रयोग न करें।

8. नाखूनों की मालिश के अच्छे परिणाम देखे गए हैं। आप मनोयोग से मालिश करें। मालिश के लिए कोई अच्छी क्रीम या जैतून का तेल लाभकारी है। मालिश से पहले सारी अंगुलियों को तेल में डुबोयें और एक हाथ से दूसरे हाथ की मालिश करें। मालिश के समय मीठे सोडे का प्रयोग करने से नाखूनों की चमक बढ़ती है।

9. नाखूनों की स्वाभाविक चमक को कायम रखने के लिए अधिक प्रोटीनयुक्त पदार्थों का सेवन करें।  शरीर को अपेक्षित मात्रा में कैल्शियम चाहिए। कमजोर और रोगों से ग्रस्त व्यक्ति डाक्टरों से नाखूनों का परीक्षण कराएं। अनिवार्य स्थिति में डॉक्टर कोई संबंधित टॉनिक या दवा दे सकता है।

10. नाखूनों की जांच-पड़ताल कराते रहें। विशेषकर नाखूनों की स्वस्थ स्थिति और नाखूनों की रंगत पर ध्यान दें। नाखून पीली और सफेद रंगत का एहसास कराएं तो चौकस हो जायें। इन्हें डाक्टर से अवश्य दिखाएं।

11. नाखूनों को उल्टे-सीधे ढंग से न काटें। नाखून काटने की एक अच्छी नींव डालें। बच्चों के नाखून गोलाई में काटें और लगातार नियमपूर्वक काटें, तभी ये देखने में अच्छे लगेंगे।

नाखूनों का सौंदर्य बढ़ाएं How To Get Beatyful Nails

लंबे और खूबसूरती से तराशे हुए नाखून हाथों का सौंदर्य दूना कर देते हैं। मगर नाखूनों को बढ़ाना, हर वक्त साफ रखना व शेप में रखना यानि उनकी देखभाल करते रहना इतना आसान नहीं है। क्योंकि आमतौर पर सबसे बड़ी समस्या ही है नाखूनों के बढ़ने की। किसी-न-किसी वजह से या तो नाखूनों की बढ़त होती नहीं है या कामकाज की वजह से नाखून बढ़ाना महिलाओं की आदत में नहीं आता है। लेकिन यदि इन दोनों की वजहों से परे नाखून बढ़ भी जाते हैं व आदत में भी आ जाते हैं तो एक खास लंबाई के बाद टूट जाने, चटख जाने या कहीं उलझकर विकृत हो जाने की समस्या खास तौर पर देखने में आती है और इन्हीं सब कारणों को देखते हुए अधिकांश महिलाएं नाखूनों को बढ़ाने की इच्छा रखते हुए भी उन्हें न बढ़ाने के मलाल से ग्रसित रहती हैं।

मगर आज जबकि हर क्षेत्र में इन्सटेंट यानि तुरत-फुरत चीजों के विकल्प तेजी से बढ़ते जा रहे हैं, जिनमें सौंदर्य क्षेत्र में ऐसे कई तुरत-फुरत विकल्प खोजे जा रहे हैं। बढ़े नाखूनों का तुरन्त विकल्प यानि बनावटी नाखून या प्लास्टिक नाखून वैसे तो काफी समय पहले से फैशन में हैं मगर ऐसे नाखूनों के ज्यादा समय तक न टिके रहने या ग्लू कमजोर पड़ जाने या कहीं अटक कर किसी एक वजह से इनका प्रयोग व्यावहारिक नहीं हो पाया था।

मगर आज सौंदर्य क्षेत्र में बनावटी नाखूनों के वास्तविक जैसे लगने व किसी भी शर्मनाक स्थिति से बचने के कई कारगर विकल्प हैं, मसलन उन्हें वास्तविक जैसा बनाने के लिए उनकी कटाई, सफाई, शेप व बफिंग के अलावा उन्हें दृढ़ता से चिपकाए रखने के लिए ‘एक्रेलिक’ एवं ‘जेल ओवर ले’ का प्रयोग। इनका प्रयोग जहां नाखूनों को बढ़ाने व उनकी रोज देख-भाल जैसे झंझटों से बचाने वाला है। वही स्वास्थ्य की दृष्टि से अपने वास्तविक नाखूनों को छोटा व साफ रखकर जरूरत पड़ने पर ही इनका कभी-कभार उपयोग स्वास्थ्यवर्धक भी है।

बनावटी नाखूनों को वास्तविकता एवं व्यावहारिकता की कसौटी पर लाने के लिए क्या-क्या यत्न करें, आइये, स्टेप-दर-स्टेप जानें।

स्टेप एक

अपने नाखूनों को काटकर अच्छी तरह चारों तरफ से साफ करें। बाजार से खरीदी गयी बनावटी नाखूनों की किट से नाखून निकालें और उन्हें प्रत्येक नाखून पर लंबाई व आकार के आधार पर इस तरह फिट करके देखें कि उसके अग्रे भाग का ऊपरी हिस्सा वास्तविक नाखून के किनारों को पूरी तरह ढक ले ।

स्टेप दो

नाखूनों की ऊपरी सतह यदि जरूरत से ज्यादा चिकनी हो या समतल न हो तो उन पर बफर द्वारा बफिंग करें व चौड़ाई में किनारों से लगभग 1/4 इंच की जगह छोड़कर ग्लू की तीन बूंदें लगाएं व नाखून के अग्र आधार को नाखून के ऊपर रखें फिर पीछे दबाते हुए जमा दें।

स्टेप तीन

लगभग तीन मिनट बाद नाखूनों के सूख जाने पर उन्हें इच्छित लंबाई तक कैंची से काटें, फाइलर द्वारा किनारों को समतल करें व बफर द्वारा बफ करें। वैसे नाखूनों को सही प्रकार से ट्रीट करने के लिए रंगीन नाखूनों की बजाए रंगहीन यानि प्राकृतिक रंग लिए नाखूनों का ही चुनाव करें। क्योंकि ऐसे नाखूनों को पॉलिश व बेस कोट द्वारा ढक कर वास्तविक रूप में दर्शाना आसान हो जाता है।

स्टेप चार

असली बनावटी नाखूनों के उभरे किनारों को समतल बनाने के लिए, उन्हें अधिक देर तक टिकाए रखने के लिए, नाखूनों के ऊपर एक्रेलिक या जेल-ओवर ले का एक कोट लगाएं। यह दोनों ही बनावटी नाखूनों को एक समान चिकना व टिकाऊ बनाने के लिए इस्तेमाल में लाए जाने वाली रंगहीन कोटिंग है, जो उन्हें दृढ़ता से चिपकाने के अलावा नेल पॉलिश को एक साफ व ठोस आधार प्रदान करती है।

स्टेप पांच

अंत में नाखूनों के ऊपर रंगीन पॉलिश लगाकर ऊपर टॉप कोट लगाएं, इससे अस्वाभाविक होने के सभी चिह्न आसानी से छिप जाएंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*