युवतियां कैसे बने पावरफुल Mahila Sashaktikaran in Hindi – महिला सशक्तिकरण

mahila sashaktikaran in hindi

युवतियां कैसे बने पावरफुल Mahila Sashaktikaran in Hindi – महिला सशक्तिकरण

आज युवतियों के लिए खुद को सेफ रखना बहुत जरूरी है. क्योंकि बलात्कार व अपहरण जैसी वारदातें तेजी से बढ़ रही हैं. ऐसे में युवतियों को चाहिए कि वे सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग लेकर खुद का बचाव करें. ऐसा करके वह खुद को इन परेशानियों से बचा सकती हैं.

हर दिन समाचार पत्रों और टीवी पर यह खबर देखने पढ़ने को मिल जाती है, कि एक जगह पर युवती के साथ सामूहिक बलात्कार हुआ या फिर अपने ही किसी जानकार ने उसके साथ अपना मुंह काला किया. युवतियों के साथ हो रही यौन हिंसा और तेजाब फेंक कर उन्हें घायल करने की बढ़ती घटनाओं ने युवतियों में असुरक्षा की भावना पैदा कर दी है. लेकिन युवतियों को इन वारदातों से डरने की बजाय सतर्क रहने व ऐसी घटनाओं के खिलाफ कुछ करने की जरूरत है.

इस संबंध में पुलिस अधिकारियों ने कुछ ऐसी बातें बताईं जिन पर अमल करके हम खुद ऐसी परेशानियों का सामना बड़े आराम से कर सकते हैं, जैसे-

☑ आत्मरक्षा के लिए जरूरी है कि सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग ली जाए;

☑ किसी तरह के हमले की आशंका हो तो हमलावर की आंखों में उंगलियों से अटैक करें;

☑ हमलावर बहुत नजदीक हो तो अपने घुटने से उसकी टांगों के बीच वार करें;

☑ हमलावर के घुटने के ठीक नीचे जोरदार वार करें, इससे आपको वहां से भागने का समय मिल जाएगा;

☑ मिर्च पाउडर या कोई स्प्रे आदि हमेशा अपने पर्स में रखें और जरूरत पड़ने पर उससे हमलावर पर अटैक करें.

इन बातों पर भी अमल करें –

  • जैसे ही मौका मिले फोन करके अपने परिचितों को घटना से अवगत कराएं.
  • अपनी फोन बुक में सभी जरूरी नंबर शामिल करें
  • अगर किसी कारणवश पूर्ण काम ना करें तो शोर मचाए

चुप ना रहे

यदि कोई व्यक्ति आपको परेशान कर रहा है, तो इसकी शिकायत तुरंत अपने पेरेंट्स या टीचर से करें. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को भी सूचित करें.

कुछ खास मोबाइल ऐप्स भी काफी फायदेमंद हैं जिनके बारे में हम आपको नीचे बता रहे हैं –

1. दामिनी

यह एक खास मोबाइल ऐप है, जिसे चालू करते ही मोबाइल का कैमरा अपने आप वीडियो बनाने लगता है. साथ ही मेसेज के साथ-साथ वीडियो लिंक भी भेजता है.

2. आई फालो

यह भी एक खास मोबाइल ऐप है, जो मोबाइल को हिलाने पर आपकी “हेल्प मी” कॉल 3 लोगों को एक साथ भेजता है.

निम्न सावधानियां बरतना भी जरूरी है –

  1. अनजान लोगों पर भरोसा ना करें;
  2. जब भी आप अकेली हो तब अधिक सतर्कता बरतें;
  3. रात के समय अकेली कहीं ना जाएं, ग्रुप में ही बाहर निकले;
  4. अनजाने या सुनसान रास्ते पर दिन में भी न जाएं;
  5. आप कहीं जा रहे हैं, इसकी जानकारी घर के किसी सदस्य को अवश्य दें;
  6. अनावश्यक रुप से किसी से बहस ना करें;
  7. सड़क पर चलते समय हेडफोन का इस्तेमाल ना करें.

यदि आप अकेली रहती हैं तो क्या सावधानियां बरतना जरूरी है –

कभी-कभी नौकरी या पढ़ाई के कारण किसी शहर में जाकर वहां अकेले रहना मजबूरी बन जाती है. वहां पर आप या तो PG में रहती है या फिर किराए पर कमरा लेकर रहती हैं. ऐसी स्थिति में सतर्क रहने के साथ-साथ निम्न बातों का भी ध्यान रखें –

  • जिस सोसाइटी में आप किराएदार के तौर पर रह रही हैं, वहां के सिक्योरिटी गार्ड के बारे में अच्छे से जानकारी ले लेना चाहिए;
  • Key-Hole से देखकर ही दरवाजा खोलें;
  • किसी भी अनजान व्यक्ति को घर के भीतर ना आने दे;
  • पुरुष मित्रों पर जल्दी विश्वास न करें और जल्दी में उन्हें अपने घर में आमत्रित न करें;
  • अपनों से मधुर संबंध रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर वह आपके काम आ सके;
  • रात को देर से घर लौटने की आदत से बचें |

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*