हेयर ट्रीटमेंटस से दें बालों को नया लुक Hair Treatment in Hindi Language

Hair treatment tips

हेयर ट्रीटमेंटस से दें बालों को नया लुक Get New Look By Hair Treatment in Hindi Language

खूबसूरती की पूरी परिभाषा बाल स्वयं में समेटे हुए होती है | कवियों ने बालों की सुंदरता का जितना वर्णन किया है | उससे बालों की उपयोगिता सिद्ध हो जाती है।  सभी खूबसूरत बाल चाहते है इसके लिए हेयर ट्रीटमेंट कराते हैं | जिससे बालों की खूबसूरती निखरती है आपको स्टाइल मिलता है व बालों को इन ट्रीटमेंट से पूरा पोषण भी मिल जाता है | आजकल बहुत प्रकार के हेयर ट्रीटमेंट प्रयोग किए जा रहें हैं | क्या है हेयर ट्रीटमेंट इनके बारे में आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए |

1. केराटिन हेयर ट्रीटमेंट (Keratin Hair Treatment in Hindi)

इस समय बालों को स्मूथ व स्ट्रेट करने का सैलून में सबसे पापुलर हेयर ट्रीटमेंट है । केराटिन हेयर ट्रीटमेंट क्या है ?

केराटिन हेयर ट्रीटमेंट ड्राई व फ्रीजी बालों के लिए एक बहुत ही अच्छा विकल्प है | जिससे बालों की कई प्रकार की समस्याएं भी दूर होती हैं और बाल खुबसूरत भी बनते हैं |

ट्रीटमेंट प्रक्रिया (Method of Keratin Hair Treatment)

यह एक प्रोटीन होता है जो स्वाभाविक रूप से बालों में होता है | सैलून में जब आप ट्रीटमेंट के लिए जाते हैं | तब हेयर स्टाइलिस्ट केराटिन हेयर स्ट्रेटनिंग प्रोडक्ट को बालों में लगाकर उसे बालों में रोकने के लिए फ्लैट आयरन की हीट का प्रयोग करते हैं | इस प्रक्रिया को करने में अधिक समय लगता है | यह प्रक्रिया 60 मिनट और कभी कभी इससे भी अधिक समय लेती है | ट्रीटमेंट की अवधि बहुत सारी बातों पर निर्भर करती है | इस ट्रीटमेंट को करने में उतना ही समय लगेगा जितनी आपके बालों की लम्बाई होगी |

इसे भी पढ़े -> गर्मियों में पार्टी के लिए हेयरस्टाइल

इससे क्या लाभ है Benefits From Keratin Hair Treatment

कोई भी ट्रीटमेंट कराने के पीछे मुख्य कारण यहीं होता है कि उसका पूरा लाभ मिले तो इससे बालों के सौंदर्य में वृद्धि होगी | इस केराटिन हेयर ट्रीटमेंट को कराने के बाद आप अपनी बालों की फ्रिजीनेस को तो भूल ही जाएंगे | इस ट्रीटमेंट को लेने के बाद आप आराम से नमीयुक्त स्थान या हल्की बारिश में भी जा सकते हैं और तब भी बालों की खूबसूरती बनी रहेगी |

केराटिन हेयर ट्रीटमेंट एक बहुत ही हैल्दी ट्रीटमेंट है बालों के लिए यदि आपके बाल पहले से ही अच्छे हैं तो इस ट्रीटमेंट को लेने से यह बालों को और भी लचीला बनाएगा |

सावधानी Safety Care In Keratin Hair Treatment

यह ट्रीटमेंट कराने से पहले इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि सोराइसिस व सेबोहेरिक इत्यादि समस्याएं न हो | अगर किसी प्रकार की कोई समस्या है त्वचा से संबंधित तो डरमेटोलॉजिस्ट से उसके लिए सलाह अवश्य लें | जिससे किसी प्रकार की कोई समस्या उत्पन्न ही न हो और बालों की खूबसूरती बनी रहे |

2. हेयर स्कैल्प ट्रीटमेंट Hair Scalp Treatment In Hindi

नेचर्स एसेंस के हेयर स्कैल्प ट्रीटमेंट का प्रयोग रूसी और इची स्कैल्प की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है | यह ट्रीटमेंट किसी भी प्रकार के बालों के लिए एक अच्छा विकल्प है | यह बालों को कोमल और स्मूथ बनाने में सहायता करता है | साथ ही बालों को चमकदार भी बनाता है | इस ट्रीटमेंट से बालों को पूरा पोषण भी मिलता है व बालों की जड़ें मजबूत बनती है | यह प्रदूषण से बालों को सुरक्षा प्रदान करता है और बालों को फिर से स्वस्थ बनाने में मदद करता है | इसके इस्तेमाल से बालों में प्राकृतिक रूप से चमक आती है | और बाल साफ्ट बनते हैं | हेयर स्केल्प ट्रीटमेंट रूसी, ड्राई स्कैल्प व बाल झड़ने की समस्या को बहुत हद तक नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाता है | यह बालों की देखभाल के लिए अपने आप में पूर्ण ट्रीटमेंट है |

मुख्य तत्व

बायोटिन, आवंला का मिश्रण व ब्राह्मी का मिश्रण तत्त्व आदि पाएं जाते हैं |

Read This Also -> घर पर बालों की देखभाल

3. प्रोटीन ट्रीटमेंट Protein Hair Treatment In Hindi

प्रोटीन ही बालों को मजबूत बनाते है और उन्हें एक अच्छा टैक्सचर देते है | इस बारे में ब्यूटी एक्सपर्ट का कहना है कि बालों में 61 प्रतिशत प्रोटीन स्वाभाविक रूप से होता है | यहां प्रोटीन्स की ढेरों वैरायटी होती हैं जो बालों की भिन्न भिन्न प्रकार से देखभाल में सहायक होते हैं | प्रोटीन हेयर क्यूटिक्लस को एक साथ कस लेते है और कमजोर हो चुके एरिया को दुबारा से बनाते है |

प्रोटीन बेस्ड प्रोडक्ट बालों के शाफ्ट को दुबारा से मजबूत बनाते हैं व बालों को झड़ने से रोकने में सहायता करते हैं | इन सबके साथ ही यह भी जानना जरूरी है कि कुछ प्रोटीन दूसरे प्रोटीन की तुलना में ज्यादा मजबूत होते हैं, लेकिन प्रतिदिन और सप्ताह में एक बार माइल्डर प्रोटीन ट्रीटमेंट लेने के परिणाम स्वरूप कुछ लोगों के बालों के रेशों में प्रोटीन व मॉश्चराइजर के बीच असंतुलन की स्थिति बन जाती है | जो बालों के लिए ठीक नहीं है यह भी जरूरी नहीं है कि ऐसा सबके साथ हो |

हर किसी के बालों की प्रोटीन टालरेंस (सहनशीलता) हर प्रोडक्ट के लिए अलग अलग होती है, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि प्रोटीन के लिए भी यह अलग ही हो | खासतौर पर प्रोटीन ऐसे लोगों के लिए बहुत आवश्यक है जिनके बालों में प्राकृतिक रूप से प्रोटीन की कमी होती है | यह कमी या तो वंशानुगत होती है या फिर पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन डाइट्री न लेने के कारण भी हो सकती है | ऐसे लोगों को अन्य लोगों की तुलना में अधिक प्रोटीन की आवश्यकता होती है | जिससे संतुलन बना रहे |

Tags: keratin hair treatment before and after, keratin treatment for hair before and after photos, keratin hair men, keratin treatment step by step, keratin straightening for men, how much keratin do i need

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*