तन- मन को महकाएं और दुर्गन्ध से पायें राहत Durgandh Se Paye Rahat

durgandh badsmell se paye chutkara

अपने तन-मन और व्यक्तित्व को प्रभावशाली बनाए रखने के लिए शरीर की साफ-सफाई पर ध्यान देना अत्यंत आवश्यक है । यदि शरीर से पसीने की दुर्गंध आती है अथवा मुंह से सांस की दुर्गंध आती है तो आपके मेकअप आदि का प्रभाव धूमिल पड़ जाता है । ऐसे में इनसे बचना आवश्यक है । इसके अलावा अपने को महकाने के लिए उचित प्रकार के परक्यूम का भी प्रयोग करना चाहिए । इससे आपका सौंदर्य एवं व्यक्तित्व किसी जादू की तरह दूसरों पर प्रभाव डालेगा |

1. पसीने की दुर्गन्ध से पायें छुटकारा Pasine Ki Durgandh Aana

पसीना आना स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है । पसीना हमारा आन्तरिक तापमान को नियंत्रित करता है | अर्थात यह शरीर को प्राकृतिक रूप से वातानुकूलित बनाता है । लेकिन पसीने की दुर्गंध से आपका व्यक्तित्व धूमिल हो जाता है । सही मायने में पसीने में कोई दुर्गंध नहीं होती, बल्कि जब पसीना त्वचा के सम्पर्क में आता है तो त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया पसीने को सड़ाकर दुर्गंध उत्पन्न कर देते हैं । ऐसे में शरीर की सफाई पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है ताकि शरीर पर पसीना जमकर दुर्गध न पैदा करे ।

पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के 5 कारगर नुस्से Pasine Ki Durgandh Se Paye Chhutkara

इसके लिए आप अपने स्किन का विशेष ख्याल रखें | इसे साफ रखें, रोजाना अच्छे से नहायें और स्वाथ्यवर्धक चीजों को अपने खान – पान में शामिल करें | यदि आपके पसीने से दुर्गन्ध आ रही है आप निम्न उपाय करें –

1. नीम की थोड़ी-सी पत्तियों को पानी में उबाल लें । फिर इस पानी को ठंडा करके नहाएं । पसीने की दुर्गंध दूर हो जाएगी ।

2. 5-6 नींबू के छिलके को पानी में उबालकर ठण्डा करके स्नान करें । पसीने की दुर्गंध दूर हो जाएगी ।

3. एक बाल्टी पानी में तीन चम्मच पुदीने का रस मिलाकर नहाने से पसीने की दुर्गंध दूर होती है ।

4. चार चम्मच बेसन, दो चम्मच मिल्क पाउडर, एक चम्मच नींबू का रस तथा दो चम्मच गुलाबजल-इन सबको मिलाकर पेस्ट बना लें । इसे पूरे शरीर पर उबटन की तरह लगाएं । 20 मिनट बाद एक बाल्टी पानी में 4० मि. ली. दूध मिलाकर स्नान करें । इससे पसीने की दुर्गंध दूर हो जाती है ।

5. नहाने के पानी में डिटॉल, गुलाबजल या नींबू के रस की 10-12 बूंदें डालकर स्नान करें । इससे पसीने में दुर्गंध नहीं आएगी ।

पसीने की दुर्गन्ध के लिए सावधानियां Pasine Se Durgandh Ki Saavdhaniyan

  • बगलों तथा अन्य स्थानों के बाल साफ रखें ताकि जीवाणु न पनपे ।
  • पैरों को पानी से अच्छी तरह साफ करने के बाद सुखा लें । जूते पहनने से पहले पैरों पर टेल्कम पाउडर छिड़क लें ।
  • प्रत्येक मौसम में शरीर की समुचित सफाई पर विशेष ध्यान दें ।
  • अधिक मिर्च-मसाले तथा चर्बीयुक्त चीजों का सेवन न करें ।
  • सूती अंतर्वस्त्र पहनें जो ठीक से धुले और सूखे हों ।
  • सुबह-शाम शरीर को ठीक से रगड़कर स्नान करें । नहाते समय बगल, सीना, पेट के नीचे, जांघ, गर्दन, घुटने और कोहनी के पीछे वाले हिस्से को विशेष रूप से साफ करें ।

2. सांस की दुर्गंध की समस्या Sans Ki Durgandh Aana

सांस की दुर्गंध आना एक विशेष समस्या है । यह प्राय: दांतों की सफाई ठीक से न करने, पान-तम्बाकू आदि का सेवन करने तथा किसी बीमारी के कारण हो जाती है । अत: सांस की दुर्गंध से बचना चाहिए । इससे आपका सौंदर्य और व्यक्तित्व फीका पड़ सकता है । सांस की दुर्गंध का पता सामान्यत: इससे पीड़ित व्यक्ति को नहीं चलता । यह उसे तब मालूम पड़ता है, जब कोई व्यक्ति उसे बताए । अत: सांस की दुर्गंध दूर करने के लिए भरसक प्रयत्न करना चाहिए ।

सांस की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के कारगर नुक्से Sans Ki Durgandh Se Kaise Paye Chutkara

1. नमक मिले पानी से गरारे करने पर सांस की दुर्गंध मिट जाती है ।

2. नींबू के छिलके पर थोड़ा-सा नमक छिड़क लें । इसे अपने दांतों और मसूढ़ों पर रगड़े । मुंह की दुर्गंध समाप्त हो जाएगी ।

3. एक चम्मच पिसा तिल और ½ चम्मच काला नमक – दोनों को मिलाकर इससे दांत साफ करें । मुंह की दुर्गंध दूर हो जाएगी ।

4. मुंह में लौंग, सौंफ या इलायची डाल लें । दुर्गंध समाप्त हो जाएगी ।

5. नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर ठंडा कर लें । इस पानी से गरारे करें । सांस की दुर्गंध नष्ट हो जाएगी ।

6. नीम के दातुन का प्रयोग करने से भी सांस की दुर्गंध दूर हो जाती है ।

सांस की दुर्गन्ध के लिए सावधानियां Sans Ki Durgandh Ki Savdhaniya

  • सांस की दुर्गंध उत्पन्न न हो, इसके लिए कब्ज से बचें ।
  • जीभ को नियमित रूप से अच्छी तरह साफ करें ।
  • पान-मसाला, धूम्रपान और शराब आदि का उपयोग न करें ।
  • दांतों की सफाई नियमित रूप से सुबह और रात को करें ।
  • शरीर पर पसीना जमने से भी सांस से दुर्गंध आने लगती है, इसलिए शरीर के सारे अंगों की ठीक से साफ-सफाई करें ।

3. परफ्यूम की महक Durgandh Ke Liye Perfume Prayog Kare

शारीरिक सौंदर्य बढ़ाने तथा लोगों के आकर्षण का केंद्र बनने के लिए परफ्यूम की उपयोगिता को नकारा नहीं जा सकता । यह आपके सौंदर्य एवं व्यक्तित्व में सकारात्मक भूमिका निभाता है । यदि आप किसी पार्टी, शादी या विशेष समारोह में छा जाना चाहती हों तो परफ्यूम के चुनाव और उसके प्रयोग की जानकारी आवश्यक है ।

परफ्यूम का चुनाव कैसे करें Perfume Kaise Chune

परफ्यूम का चुनाव व्यक्तिगत पसंद पर निर्भर करता है । आपको जिस परफ्यूम की गंध अच्छी लगे, उसी परफ्यूम का प्रयोग करें । लेकिन घटिया, सस्ता अथवा बाजारू परफ्यूम का प्रयोग कदापि न करें । सदैव विश्वसनीय दुकान से ही अच्छी कंपनी का परफ्यूम खरीदें ।

परफ्यूम का प्रयोग कैसे करें  How To Use Perfume for Removing Bad Smell

  • शोधों द्वारा पता चला है कि सुगंध का प्रभाव स्त्री-पुरुष की समस्त इंद्रियों पर पड़ता है; इसलिए प्रेम का प्रभाव बढ़ाने, आकर्षित करने तथा यौन उत्तेजना बढ़ाने के लिए पति-पत्नी परफ्यूम का प्रयोग कर सकते हैं ।
  • परफ्यूम को शरीर के पल्स प्लॉइंट (नाड़ी स्थल) पर छिड़कना चाहिए । इससे परफ्यूम शारीरिक ऊष्मा पाकर अधिक देर तक महकता रहता है ।
  • कलाइयों, कान के पीछे, बगल, कमर के चारों ओर, दोनों वक्षों के मध्य तथा जांघ आदि स्थल परफ्यूम लगाने के लिए सर्वोत्तम हैं ।
  • शाम तथा रात के समय परफ्यूम का प्रयोग करना चाहिए । वैसे आप अवसर, मौसम और मूड के हिसाब से समय बदल भी सकती हैं ।

परफ्यूम लगाने में सावधानी बरतें What To Take Care For Perfume

1. परफ्यूम की शीशी खोलने के बाद लगातार इसका प्रयोग करें । क्योंकि शीशी खुलने के बाद परफ्यूम वाष्पीकरण द्वारा उड़ने लगता है और उसकी महक धीरे- धीरे कम हो जाती है ।

2. परफ्यूम के प्रयोग के बाद परफ्यूम की शीशी को ठंडी और अंधेरी जगह पर रख देना चाहिए ।

3. परफ्यूम को एक शीशी से दूसरी शीशी में डालने का प्रयत्न नहीं करना चाहिए । इससे परफ्यूम उड़ जाता है ।

4. यदि परफ्यूम हाथ में लग जाए तो हाथ को अवश्य धो लें, वरना खाने की वस्तु के साथ वह पेट में चला जाएगा जो हानिकारक सिद्ध होगा ।

5. दो-तीन प्रकार के परफ्यूम का प्रयोग एक साथ न करें । इससे परफ्यूम की वास्तविक सुगंध का एहसास नहीं होता ।

6. परफ्यूम के प्रयोग से शरीर के स्नायु मंडल और रक्त कोशिकाओं में रक्त प्रवाह तेज हो जाता है, इसलिए परफ्यूम का उपयोग नियमित रूप से न करके कुछ दिनों के अंतराल से करना चाहिए ।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*