मेनीक्योर – पेडिक्योर क्यों हैं जरूरी Benefits of Manicure and Pedicure Hindi Me

Manicure and Pedicure Hindi Tips

मैनीक्योर-पैडीक्योर से हाथो और पैरों का ध्यान रखा जाता है| हाथ-पैरों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए इन्हे लगातार करवाते रहना चाहिए| इस प्रक्रिया से नाखूनों को भी आकर्षक बनाया जा सकता है| इससे छोटे और खराब नाखूनो को भी खूबसूरत बनाया जा सकता है| यह महिलाओं और पुरुषो दोनों के लिए उपयुक्त है|

मैनीक्योर – पैडीक्योर फायदे Benefits of Manicure and Pedicure: मैनीक्योर और पैडीक्योर से हाथ-पैरो में निखार आता है और साथ ही आकर्षक दिखने से आत्मविश्वास भी बढ़ता है| इससे नाखूनो का जल्दी-जल्दी कमजोर होकर टूटने, पीला पड़ने और खराब होने की समस्याओं से निजात मिलती है| ये हाथो व पैरो पर झुर्रियां पड़ने से बचाता है| मैनीक्योर पैडीक्योर से जोड़ो के दर्द, साइनस, सर्दी और बलगम से राहत मिलती है| ये तनाव को भी कम करते है|

कैसे करे मैनीक्योर – पैडीक्योर Manicure – Pedicure Karne Ka Tarika

  • पुरानी नेल पॉलिश हटाए|
  • पसंदानुसार नाखूनों को कांटे और आकार दे|
  • नाखूनों पर क्यूटिकल क्रीम लगाएँ|
  • सिट्ररस हैंड एंड फुट बाथ में 5 मिनट तक भिगोए रखे|
  • सिट्ररस हैंड एंड फुट बाथ को घुमावदार प्रक्रिया से मसाज करे| फिर धो दे|
  • इसके बाद सिट्ररस हैंड एंड फुट स्क्रब लगाएँ, इससे मृत त्वचा हट जाएगी| स्क्रब से मसाज करने के बाद धो दे|
  • नेलब्रश की सहायता से नाखूनो के आसपास की मृत त्वचा को साफ करे|
  • क्यूटिकल्स को ठीक करे, लेकिन सावधानी से| निपर से मृत क्यूटिकल हटाए| फिर नाखूनो को अच्छी तरह साफ करे|
  • शुष्क हथेलियों और एड़ियो से सख्त और मृत त्वचा हटाने के लिए प्यूमिक स्टोन का प्रयोग करे|
  • बाथ ब्रश से हाथो-पैरो की सफाई करे|
  • सिट्ररस हैंड एंड फुट मसाज क्रीम लगाए| बाहों और टांगों पर इससे मसाज करे|
  • गर्म पानी से भीगे तैलीए से क्रीम हटाए|
  • सूखने के बाद साफ कर दे|
  • हाथ-पैर सूखने के बाद सिट्ररस हैंड एंड फुट मॉइश्चराइजर लगाए| इससे त्वचा कोमल होगी|
  • नाखूनो को चमक देने के लिए नेल बफर का इस्तेमाल करे|
  • इसके बाद नाखूनो पर नेल बेस लगाकर नेल पेंट लगाएँ| फिर टॉप कोट लगाएँ|

हाथो व पैरो की देखभाल Hand & Legs Ki Care 

मैनीक्योर के अलावा रोज़मर्रा में भी हाथो व पैरों की देखभाल जरूरी है| जैसे-नहाते समय हाथों और पैरों का खास ध्यान रखना चाहिए| बाथ ब्रश से अच्छी तरह सफाई करे| लगभग 1 मिनट तक बाथ ब्रश और बाथ सोप से मसाज करने से गंदगी हट जाएगी, साथ ही रक्तसंचार भी बेहतर होगा| हर चौथे दिन जई में 1 छोटा चम्मच नींबू का रस और दूध मिलाकर पेस्ट बनाए| हाथो और पैरों में लगाएँ और 5 मिनट बाद धो दे| नहाने के बाद हमेशा शरीर पर मॉइश्चराइजर लगाएँ| हाथो- पैरों पर बाल हो तो वे भद्दे लगते है| इसलिए अगर बाल हो, तो उन्हे साफ करना बेहद जरूरी है| बालों को हटाने के लिए वैक्सिंग करे| हाथ-पैरों पर साबुन के प्रयोग से काफी रूखापन आ जाता है, इसे दूर करने के लिए मॉइश्चराइजर लगाएँ|

आइए जाने घर पर मॉइश्चराइजर कैसे बनाएँ How To Make Moisturizer At Home-

  • 6 छोटा चम्मच पेट्रोलियम जेली,
  • 2 छोटा चम्मच गिल्सरीन,
  • ½ छोटा चम्मच नींबू का रस,
  • इन सबको मिलाकर पेस्ट बना ले|

यह मॉइश्चराइजर शुष्क त्वचा पर बहुत कारगर है| इसे हाथो-पैरों पर लगाकर अच्छी तरह मले| इसके बाद टिशु पेपर से दबाकर नमी मले| इसे सोने से पहले प्रयोग में लाएँ| एड़ियों के फटने की समस्या बहुत ही आम है| इससे बचाव के लिए एड़ियों को रोज नहाते समय प्यूमिक स्टोन के कामो से हथेलियाँ बहुत सख्त हो जाती है, इन्हे मुलायम करने के लिए हाथो पर अच्छी-सी क्रीम लगाकर मसाज करे ताकि इसके बाद गीले और गर्म तौलिए से हाथ पोंछ ले| साथ ही जब भी बर्तन आदि साफ करे तो बाद में हैंड क्रीम लगाना न भूले| हमेशा हाथों को साफ रखे| साबुन लगाकर लगभग 25 सेकंड तक हाथ मलकर फिर साफ पानी से धोएँ| ऐसा करने से हाथ अच्छी तरह साफ हो जाते है|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*