बरसात के मौसम में सुंदर कैसे दिखें

beauty tips for rainy season

बरसात के आगमन से जहां एक ओर तन-मन प्रफुल्लित हो जाता है, भीषण गरमी से राहत मिलती है, वातावरण में चारों ओर हरियाली ही हरियाली दिखती है प्रकृति का अनोखा रूप देखकर मन मयूर नाच उठता है, वहीं दूसरी ओर महिलाओं के सामने अपने सौंदर्य को बरकरार रखने की एक नई समस्या खड़ी हो जाती है। बरसात का अपना एक अलग ही आनंद होता है लेकिन सौंदर्य के संदर्भ में परेशानी खड़ी कर देती है। इस मौसम का हमारी त्वचा पर प्रत्यक्ष असर पड़ता है।

घरेलू महिलाओं के लिए बरसात उतनी कष्टकारक नहीं होती है, जितनी कि कामकाजी महिलाओं के लिए। इसकी खास वजह यह है कि नौकरीपेशा महिलाओं को रोजाना एक निश्चित समय पर घर से बाहर जाना पड़ता है। फिर जहां तक बारिश का सवाल है, उस का समय निश्चित नहीं होता। पता नहीं कब बारिश शुरू हो जाए। दफ्तर तो जाना ही होगा। ऐसे में बदसूरत चेहरा बना कर तो दफ्तर जा नहीं सकते। अतएव ऐसी हालत में सौंदर्य को बरकरार रखना बेहद महत्वपूर्ण होता है। सौंदर्य के अंतर्गत मुख्य रूप से केशसज्जा, पहनावा, मेकअप आदि की समस्या बनी रहती है। गीले होने के कारण त्वचा से संबंधित कई बीमारियां होने की आशंका बनी रहती है। खासकर जब चेहरे पर फोड़े -फूंसियां निकल आते हैं तो अच्छा-खासा चेहरा भी बदरंग लगने लगता है।

बरसात के मौसम में केशों का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। इस मौसम में केशों की समस्या बहुत होती है |  “बरसात में केशों के भीगने से उन में चिपचिपाहट आ जाती है। इस से केश कमजोर हो कर गिरने लगते हैं। बरसात में केशों को सप्ताह में कम-से-कम 3 बार धोना चाहिए। धोने के बाद अगर वे नम मौसम के कारण सूख नहीं पा रहे हों तो पंखे की तेज हवा में सुखाने का प्रयास करें। आधे सूखे केशों को भूल कर भी न बांधे। ऐसा करेंगी तो उन में से बदबू आने लगेगी। इसलिए केशों को धोने के बाद उन्हें सुखाना अनिवार्य हो जाता है।’ संगीता कामकाजी महिला हैं। उनके केश बहुत लंबे, काले व घने हैं। वह कहती हैं, “बरसात के दिनों में केशों को संवारना थोड़ा मुश्किल होता है। केशों की हिफाजत के लिए अधिक समय निकालना पड़ता है।

मैं दफ्तर के लिए प्रतिदिन सुबह 9 बजे निकल जाती हूं जिस दिन केश धोने होते हैं, मैं 7 बजे तक धो लेती हूं ताकि उन्हें सुखाने के लिए पर्याप्त समय मिल सके। कभी ऐसा भी होता है कि केशों को सुखाने का समय ही नहीं मिल पाता है और दफ्तर जाने का समय हो जाता है तब मैं अपने केशों को बांधने की बजाय खुला ही छोड़ देती हूं। बरसात में भिन्न-भिन्न प्रकार की केशसज्जा करने के बजाय साधारण चोटी या साधारण जूड़ा बनाना ठीक रहता है। यदि केश ज्यादा छोटे हों तो एक पोनीटेल बनाना चाहिए। हेयर स्प्रे का प्रयोग कम से कम करना चाहिए क्योंकि बारिश की बौछारें केशविन्यास को चौपट कर देती हैं।’

बरसात में कई बार केश भीग जाते हैं। “भीगे केशों को धो कर तुरंत सुखा लें। यदि केश उलझ गए हों तो मोटे दांतों वाली कंघी का प्रयोग करें। इस प्रकार आप बरसात में उचित देखभाल से अपने केशों को सुंदर बनाए रख सकती हैं।’ बरसात में चेहरे के सौंदर्य को बनाए रखना सब से महत्वपूर्ण है। कई बार चेहरे पर फोड़े-पुंसियां निकल आती हैं। त्वचा खराब हो जाती है। कई बार चेहरे के भीगने से शक्ल-सूरत बदरंग नजर आती है। इस ऋतु में चेहरे की सुंदरता बनाए रखने के लिए थोड़ी सावधानी जरूरी है। ‘इस मौसम में चेहरे पर फाउंडेशन, ब्लशर, आइ शैडो, मस्कारा आदि का प्रयोग कम से कम करना चाहिए क्योंकि वर्षा की बौछारें चेहरे को भद्दा बना देती हैं।

इस मौसम में शोख और चटक मेकअप के स्थान पर हल्का मेकअप करें। बूंदाबांदी में भी चेहरा बदरंग नहीं दिखेगा।’ बरसात में चेहरे के भीग जाने के बाद घर पर तैयार किए हुए टॉनिक का प्रयोग करें। 2 छोटे चम्मच खीरे के रस में 2 बूंदें नीबू का रस मिलाएं। इसी अनुपात में जरूरत के अनुसार टॉनिक बनाएं और उसे फ्रिज में रख दें उस में गुलाबजल भी पर्याप्त मात्रा में मिलाएं। इसे रुई से चेहरे पर लगाएं। चिपचिपाहट होने के बाद साफ कपड़े से चेहरे को पोंछ दें। इनसे चेहरे की त्वचा साफ और मुलायम रहेगी। उस पर बरसात का कोई असर नहीं होगा। बरसात में लिक्विड बिंदी का प्रयोग न ही करें तो बेहतर रहेगा। बरसात के मौसम में वस्त्रों का चयन भी सुंदरता को बनाए रखने में मददगार होता है।

इस मौसम में पारदर्शी, सूती, कलफ लगे, जरी, गोटे के कढ़ाईदार कपड़ों का कम से कम उपयोग करें। डाक्टरों का मानना है कि सूती कपड़ा स्वास्थ्य और सौंदर्य दोनों के लिए उत्तम है फिर भी बरसात में सिंथेटिक कपड़े जल्दी सूख जाते हैं। अत: इन का उपयोग किया जा सकता है। इस मौसम में गहरे शोख, रंगीन कपड़े ज्यादा अच्छे दिखते हैं। आप को जब बाहर या दफ्तर जाना हो तो हैंड बैग में कंघी, मॉइश्चराइजर, हल्के रंग की लिपस्टिक, एक छोटा लेकिन मोटा तौलिया अवश्य साथ रखें ताकि हल्के रूप से भीगने पर अपने सौंदर्य को फिर से निखार सकें।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*