एल्युमा मशीन द्वारा त्वचा की झुर्रियों का उपचार

Aluma Skin Tightening Treatment In Hindi.

त्वचा से झुर्रियां साफ करने का ऐसा उपाय, जिसमें ना तो त्वचा को काटने की जरूरत पड़ती है और ना ही किसी प्रकार का इन्जेक्शन देने की । आप भी आजमाइए |

चेहरे की झुर्रियों, लटकती हुई त्वचा वगैरह से निजात दिलाने के लिए कॉस्मेटिक के क्षेत्र में एक नयी मशीन एल्युमा का प्रयोग किया जा रहा है । क्या है इसमें, आइए जानते हैं ।

इस उपचार में उम्र को थामा नहीं जाता, बल्कि उसे पीछे धकेलने का प्रयास किया जाता है । इस उपचार से फाइन लाइंस, झुर्रियों और त्वचा का ढीलापन ठीक किया जाता है । इसमें एल्युमा मशीन के प्रोब (हैंडल) का इस्तेमाल किया जाता है । इसे त्वचा से स्पर्श करते हुए त्वचा के ऊपर हीट देते हुए घुमाया जाता है यानी लेजर दिया जाता है, जिससे त्वचा सिकुड़ती है और उसमें कसावट आती है । इस उपचार में त्वचा को काटा नहीं जाता है और ना ही इसके कोई साइड इफेक्ट्स हैं । लेकिन अगर त्वचा बेहद संवेदनशील है, तो हो सकता है कि लेजर की किरणों के कारण त्वचा के उस हिस्से पर हल्की लाली आ जाए ।

अगर आप भी हल्की या कुछ गहरी झुर्रियों से हमेशा के लिए निजात पाना चाहती हैं, तो एल्युमा के जरिए झुर्रियों से निजात पा सकती हैं । यह प्रक्रिया एकदम दर्दरहित और पूरी तरह सुरक्षित है और इसमें मरीज को बेहोश करने की जरूरत नहीं होती है । एल्युमा से पेट, पेट के निचले हिस्से, ऊपरी होंठ, छाती, गरदन, चेहरा और अगर जरूरत हो, तो बाजू पर भी लेजर किया जाता है । इसके अलावा पेरी ऑक्युलर यानी आंखों के आसपास क्रोज फीट, पेरी ओरल यानी मुंह और ऊपरी होंठ के आसपास, माथे की फाइन लाइंस, ग्लाबेला यानी फ्राउन लाइंस और गालों पर स्माइल रिंकल्स को भी ठीक किया जा सकता है ।

समय में भी कटौती : इस पूरे उपचार में ज्यादा से ज्यादा 1/2 घंटे का समय लगता है और इसे लेने के तुरंत बाद सामान्य दिनचर्या में लगा जा सकता है । लेकिन परिणाम आने में महीनाभर या उससे ज्यादा समय लग सकता है ।

बजट में है : खूबसूरत और जवां दिखने के लिए अब तक आपने काफी पैसा खर्च किया होगा और परिणाम शायद फिर भी मनमाफिक ना आए हों, लेकिन यह उपचार यकीनन आपको फायदा पहुंचाएगा । इसमें आनेवाला खर्च इस बात पर निर्भर करेगा कि आप कितने हिस्से पर इस उपचार को ले रही हैं । अमूमन एक सेशन का खर्च 5000 रुपए से ऊपर ही आता है और 2-4 हफ्ते में त्वचा में पूरी तरह से कसावट आ जाती है । यह बेशक झुर्रियां दूर करने का स्थायी और इंस्टेंट तरीका नहीं है, फिर भी चेहरे की काट-छांट से बेहतर है ।

कोशिश करके देखें

1. त्वचा को धूप से बचा कर रखें । धूप से त्वचा पर झुर्रियां पड़ती हैं, रूखापन आता है और कई अन्य गंभीर त्वचा संबंधी तकलीफें जन्म ले सकती हैं ।

2. सुबह 10 बजे से दोपहर 4 बजे तक धूप में ना निकलें । इस दौरान धूप सबसे ज्यादा तेज होती है ।

3. धूप में पूरी बाजू के कपड़े पहन कर निकलें । साथ में छाता या टोपी रखें ।

4. ऐसा फेब्रिक पहनें, जिनमें धूप से बचाव हो सके, जैसे डेनिम । ढीली बुनावट लिए कपड़े ना पहनें ।

5. धूप में सनस्क्रीन लगा कर ही निकलें । बाहर निकलने से 20 मिनट पहले सनस्क्रीन लगाना ठीक रहता है ।

6. पसीना आने पर हर 2 घंटे बाद दोबारा सनस्क्रीन लगाएं ।

7. सिगरेट ना पिएं । इससे त्वचा पर झुर्रियां जल्दी पड़ती हैं । सिगरेट पीने से रक्तवाहिनियां सिकुड़ जाती हैं और रक्त प्रवाह कम हो जाता है, जिससे त्वचा से ऑक्सीजन और न्यूट्रिएंट्स, जैसे विटामिन ए कम होते जाते हैं । इसी कारण इलास्टिन और कोलेजन टूट जाता है, जिनसे त्वचा को मजबूती और लचीलापन मिलता है ।

8. इसके अलावा सिगरेट पीते वक्त चेहरे के जो भाव होते हैं, उस कारण भी झुर्रियां पड़ती हैं । वहीं सिगरेट के धुएं के कारण भी चेहरे की त्वचा खराब होती जाती है ।

9. गुनगुने पानी से नहाएं, लेकिन नहाने का समय कम कर दें । गरम पानी से देर तक नहाने से त्वचा से तेल खत्म हो जाता है, जिससे खुजली तो होती ही है, साथ ही झुर्रियां भी पड़ती हैं ।

10. नहाने का समय 15 मिनट से ज्यादा नहीं होना चाहिए ।

11. तेज केमिकल युक्त साबुनों के प्रयोग से बचे । तेज केमिकल युक्त साबुनों से स्नान करने से त्वचा से जरूरी तेल निकल जाता है और रूखापन आता है ।

12. हमेशा सौम्य साबुन से स्नान करें, जिसमें तेल व फैट हो ।

13. त्वचा संवेदनशील है, तो परफ्यूम या डाई वगैरह का प्रयोग ना करें । इनसे त्वचा पर जलन हो सकती है और एलर्जी भी हो सकती है ।

14. आई मेकअप साफ करने के लिए मुलायम स्पंज, सूती कपड़ा या रुई का फाहा इस्तेमाल में लाएं ।

15. अगर भारी वॉटरपूफ मेकअप इस्तेमाल में ला रही हैं, तो ऑइल बेस लिए उत्पाद से मेकअप साफ करें, जैसे पेट्रोलियम जैली ।

16. त्वचा को रोजाना मॉइश्चराइज करना ना भूलें । इससे त्वचा में प्राकृतिक नमी का स्तर बना रहता है । यह त्वचा में नमी को सील करके रखता है । इसका चुनाव त्वचा की बनावट, उम्र व इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपकी त्वचा पर कोई तकलीफ वगैरह तो नहीं है, जैसे मुंहासे ।

17. आपकी त्वचा को कितने मॉइश्चराइजर की जरूरत है, यह जानने के लिए नहाने के बाद 20 मिनट इंतजार करें । अगर त्वचा में रूखापन आए, तो मॉइश्वराइजर लगाएं । एसपीएफ 15 युक्त मॉइश्चराइजर प्रयोग में लाएं । यह सूर्य की अल्ट्रावॉयलेट किरणों से त्वचा का बचाव करेगा ।

18. शेव करने से पहले त्वचा को गुनगुने पानी से धोएं, जिससे शेव के बाल मुलायम हो जाएं ।

19. शुष्क त्वचा पर शेव ना करें । इससे रेजर बर्न हो सकता है । शेविंग क्रीम या जैल लगा कर त्वचा को नम करें, फिर शेव बनाएं ।

20. हमेशा साफ और शार्प रेजर का इस्तेमाल करें ।

21. हमेशा बाल उगनेवाली दिशा में शेव करें, फिर गुनगुने पानी से चेहरा धो लें । फिर भी जलन हो, तो अल्कोहल फ्री लोशन लगाएं । हालांकि अल्कोहल में ठंडक पहुंचानेवाले तत्व होते हैं, मगर इनके प्रयोग से त्वचा को राहत नहीं मिलती है, क्योंकि अल्कोहल त्वचा से जल्द ही उड़ जाता है ।

केमिकल पील

केमिकल/ग्लाइकोलिक पील को गन्ने के अर्क से बनाया जाता है । एक्सपर्ट बताते हैं कि इसे लगाने से पहले मरीज का चेहरा क्लींजर से साफ किया जाता है, फिर त्वचा की बनावट को देखते हुए पील लगाते हैं । शुरुआत में कम गाढ़ा पील लगाया जाता है, उसके बाद हर 2 हफ्ते बाद उसकी सांद्रता बढ़ा दी जाती है । केमिकल पील को 2-4 मिनट लगा रहने के बाद धो देते हैं । केमिकल पील के बाद सनस्क्रीन लगाने को देते हैं, साथ ही नाइट क्रीम भी दी जाती है । अगर मुंहासों या एक्ने के लिए पील लगाया गया है, तो एंटी एक्ने क्रीम लगाने की सलाह दी जाती है ।

क्यों लगाएं : अमूमन हर 30 दिन में नयी त्वचा आती है, लेकिन कई बार इसका प्रभाव त्वचा पर दिखायी नहीं देता है । केमिकल पील के जरिए स्किन पीलिंग की प्रक्रिया को प्राकृतिक पीलिंग प्रक्रिया के मुकाबले जल्दी कर दिया जाता है ।

लाभ : केमिकल पील मुंहासों, फ़ाइन लाइंस, गर्भावस्था के बाद चेहरे पर पड़ी झांइयों व आंखों के नीचे काले घेरों को ठीक करता है । इसके अलावा पिगमेंटेशन ठीक करके त्वचा में ग्लो लाता है और इससे सनटैन साफ होने के साथ ही कॉम्प्लेक्शन भी निखरता है । हो सकता है कि केमिकल पील के बाद जलन हो या जले के निशान रह जाएं, लेकिन ये अस्थायी होते हैं और कुछ ही दिन में साफ हो जाते हैं ।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*