हेयर कलर करे बिना साइड इफेक्ट के Best Way To Color (Dye) Hair Without Side Effects

Color (Dye) Hair Without Side Effects

Best Way To Color (Dye) Hair Without Side Effects – अकसर लोग कहते है कि, हेयर कलर कराने से नया लुक तो आया पर बालों का टेक्सचर (Hair Texture) पहले जैसा नहीं रह पाता है | वैसे तो आजकल हेयर कलर करना बहुत ही ट्रेन्ड में है और युवाओं में तो इसका क्रेज बढ़ता ही जा रहा है | लेकिन कलर कराने के बाद अक्सर यह शिकायत आने लगती हैं कि अब उनके बाल जैसे Soft नहीं रहे |

एक नवविवाहिता ने कुछ ही दिनों पहले बताया है कि उन्होंने अपने बालों को शादी पर कलर कराया था, इससे पहले भी वह कई बार कलर करा चुके हैं | उनका कहना है कि उनके कई बाल सफेद होने लगे हैं | वह बालों के सफ़ेद होने को कलरिंग में मौजूद को केमिकल्स जिम्मेदार मानती हैं |

वही इस मामले में ब्यूटी एक्सपर्ट्स का मानना है कि यह सब इसलिए होता है, क्योंकि लोग अपने बालों की केयर ठीक से नहीं करते | उनका कहना है कि कलरिंग से पहले और बाद में बालों को एक्स्ट्रा केयर की जरूरत होती है और कुछ बातों का ध्यान रखने से हेयर डैमेज की समस्या से बचा जा सकता है |

बालों की कलरिंग करने से पहले ध्यान रखने वाली बातें Hair Color Tips To Follow

यदि आप भी उनमें से एक हैं जो हेयर कलर करना पसन्द करती हैं तो आपको इन टिप्स को फॉलो करने इससे होने परेशानियों से बच सकती हैं –

Tip # 1 – हेयर कलर कराने से पहले बालों को ट्रिम करा लें, जिससे दो मुहे बाल निकल जाएंगे और कलर किए हुए बाल और ज्यादा सुंदर लगेंगे |

Tip # 2 – अगर आप अपने बालों की स्ट्रेटनिंग कराना चाहती हैं, तो कलर कराने से लगभग 3 हफ्ते पहले कराएं | क्योकि कलर कराने से एकदम पहले केमिकल्स का प्रयोग बालों में कभी नहीं करना चाहिए |

Tip # 3 – कलरिंग से पहले बालों में डीप कंडीशनिंग करनी चाहिए, इससे बाल मजबूत बनेंगे और कलरिंग के समय लगने वाले केमिकल के प्रयोग से कमजोर नहीं होंगे | इसके लिए आप अंडे से बना हेयर पैक इस्तेमाल कर सकती हैं |

Tip # 4 – यदि आप Henna (मेहदी) का बालों में प्रयोग कर रहीं है तो कलर कराने से लगभग 5 या 6 महीने पहले ही Henna का प्रयोग करना बंद कर देना चाहिए, क्योंकि Henna किए गए बालों पर कलर ठीक से नहीं चढ़ता है |

Tip # 5 – अगर आप सिर की स्किन पर किसी भी तरह की खरोच, हल्की चोट या फुंसियां हो तो पहले उसे ठीक होने दें उसके बाद ही आप ही हेयर कलर कराए |

हेयर कलर कराने के बाद बालों की देखभाल कैसे करें Balon Me Hair Color Ke Dekhbhaal

कलरिंग करने के बाद बहुत ही हार्श (Harsh) शैंपू का प्रयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए | इससे बालों में मौजूद जरूरी नमी खत्म हो जाती है और बाल टूटने लगते हैं | ब्यूटी एक्सपर्ट का मानना हैं कि आमतौर पर एंटी डेंड्रफ शैंपू Harsh होते हैं | साथ ही मार्केट में खास तौर पर कलर किए गए बालों के लिए शैंपू भी उपलब्ध है, इसलिए आप उनका इस्तेमाल कर सकती है | इसके साथ ही आप किसी अच्छे कंडीशनर का प्रयोग करें |

– हफ्ते में दो बार तेल लगाकर ही हेयर वास करना चाहिए |

– बालों को नेचुरली सूखने देना चाहिए | बालों को सुखाने के लिए बहुत गर्म हेयर ड्रायर का प्रयोग नहीं करना चाहिए और हो सके तो धूप में ही बालों को सुखाने का प्रयास करें |

– गीले बालों में कंघी नहीं करनी चाहिए | गीले बालों में यदि उलझने ज्यादा लगें तो खुले दांत वाली कंघी से बालों को आप सुलझा सकती हैं |

– आप हमेशा यह कोशिश करें कि बालों को खारे पानी से न धोए (Hard Water Se Balon Ko Dhona Avoid Kare) | खारा पानी इस्तेमाल करने से बालों में कई तरह की समस्याएं पैदा हो सकती हैं |

– बालों में कलर करने के कुछ हफ्तों तक स्विमिंग करने से बचें क्योंकि कलर किये गये बालों के लिए क्लोरीन हानिकारक होता है, जो कि स्विमिंग पूल में पाया जाता है | इसके बचाव के तौर पर आप स्वीमिंग कैप पहनकर स्विमिंग कर सकती हैं |

युवावस्था में लगभग 4-6 महीने के अंतराल में बालों में फिर से कलर कराया जा सकता है | कुछ बातों को ध्यान में रखकर हेयर कलर की साइड इफेक्ट (Hair Color Side Effects) से बचा जा सकता है | साथ ही डैमेज बालों के सुधार के लिए बाजार में हेयर सिरम्स, हेयर बाम, हेयर स्पा जिसमें मसाज और डीप कंडीशनिंग (Hair Serum, Hair Balm, Hair Spa for Massage and Deep Conditioning) से बालों को नरिश किया जाता है | बस थोड़ी सी देखभाल से निश्चय ही आप ट्रेण्डी हेयर कलर (Trendy Hair Color) पाकर अपनी पर्सनालिटी को उभार सकती हैं |

loading...

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*