अपने सौंदर्य को निखारें ब्यूटी ऑयल्स से

Best Essential Oils For Skin In Hindi.

अपने होम ब्यूटी ट्रीटमेंट में अगर कुछ खास तेलों को जगह दें, तो शादी के दिनों में ब्यूटी पार्लर में वक्त कम देना होगा । नारियल, जैतून, बादाम, तिल के तेल का प्रयोग सौंदर्य निखारने में कैसे करें-

शादी से कुछ महीने पहले अपनी स्किन को हेल्दी बनाने की तैयारी करें । आपका ब्यूटी प्रोडक्ट और कॉस्मेटिक पर होनेवाला मोटा खर्च बच जाएगा । तेलों में बहुत से ऐसे तत्व होते हैं, जो त्वचा को पौष्टिकता देने और रंग को साफ करने में मदद करते हैं । सिर में लगाने के अलावा तेलों से अपने लिए नेचुरल स्क्रब, बॉडी लोशन, आई क्रीम, मेकअप रिमूवर भी बना सकती हैं ।

बॉडी स्क्रब और नारियल तेल : नारियल तेल में थोड़ी सी चीनी मिला कर नेचुरल फुट स्क्रब बनाएं । इसके इस्तेमाल से मृत कोशिकाएं दूर होंगी और त्वचा चमकदार बनेगी । नारियल तेल को बेस ऑइल बनाएं और अपनी पसंद का असेंशियल ऑइल डालें, इसकी महक से मस्तिष्क को ठंडक मिलेगी और थकान दूर होगी |

मेकअप रिमूवर ऑलिव ऑइल : शादी के कुछ महीने पहले शॉपिंग, पार्टी, फैमिली गेट-टूगेदर का दौर चलता है । ऐसे में कई बार चेहरे पर रौनक बनाए रखने के लिए मेकअप लगाना जरूरी हो जाता है । शाम को मेकअप उतारना ना भूलें । इसे उतारने के लिए पानी में भिगोयी हुई रुई पर ऑलिव ऑइल की कुछ बुंदें डालें और मेकअप साफ करें । अगर मेकअप हेवी है, तो इस प्रक्रिया को 2-3 बार दोहराएं । इस तरीके से वॉटरप्रूफ मेकअप भी हटा सकती हैं । इसे बेहद हल्के हाथों से हटाएं । इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें । रक्तसंचार बढ़ेगा, बंद पोर्स खुलेंगे और त्वचा की खोयी नमी लौट आएगी । ऑइली या मुंहासेवाली त्वचा पर इसका प्रयोग ना करें । इससे मुंहासे में संक्रमण होने की समस्या और बढ़ेगी ।

बादाम का तेल व अंडर आई क्रीम : आंखों के नीचे काले घेरे और महीन रेखाओं को दूर करने का सबसे आसान और प्रभावी उपाय है बादाम का तेल । रोज रात को सोने से पहले अपनी अनामिका उंगली में एक बूंद बादाम का तेल मलें और आंखों के नीचे लगाएं । कुछ ही हफ्ते में आंखों के नीचे की त्वचा का रंग साफ और त्वचा मुलायम हो जाएगी ।

त्वचा और बादाम का तेल : माना जाता है कि त्वचा पर सीधे आॉइल मसाज नहीं करनी चाहिए । इससे त्वचा की रंगत सांवली पड़ सकती है । लेकिन सभी तेल की मसाज से ऐसा हो, यह जरूरी नहीं । बादाम का तेल लगाने पर रंग निखरता है । इसे सर्कुलर मोशन में तब तक मालिश करें, जब तक यह त्वचा पर पूरी तरह जज्ब(सोख न ले) ना हो जाए । त्वचा की झुर्रियां और बारीक रेखाओं को दूर करने के लिए क्रीम लगाने की जगह बादाम के तेल का प्रयोग कर सकती हैं ।

हेल्दी फैट्स और गुड स्किन

अच्छी वसा आपको मोटा नहीं करती हैं, बल्कि हेल्दी रखने का काम करती हैं । शोध बताते हैं, अगर खानपान में सही मात्रा में फैट हो, तो कई तरह की बीमारियों से बचा सजा सकता है । अगर खराब वसा और अच्छी वसा के अंतर को समझ लिया जाए, तो स्लिम रहने में मदद मिल सकती है ।

फ्लेक्स सीड ऑइल : फ्लेक्स सीड यानी अलसी के बीज, इसमें सबसे ज्यादा मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है । यह भी त्वचा पर असमय झुर्रियों पर रोक लगता है ।

कद्दू के बीज : शोध बताते हैं कि कद्दू के बीज स्त्री और पुरुष दोनों के लिए फायदेमंद हैं । इसमें मौजूद जिंक से पुरुष का प्रोस्टेट ग्लैंड स्वस्थ रहता है और महिलाओं में मेनोपॉज से जुड़ी परेशानियां भी कम होती हैं जैसे हॉट फ्लैशेज, सिर दर्द, हाई ब्लड प्रेशर । इनके सेवन से बालों के झड़ने पर रोक लगती है और उनकी ग्रोथ अच्छी होती है ।

एवोकैडो ऑइल : एवोकैडो ऑइल का स्किन बूस्टर माना जाता है । यह त्वचा को पौष्टिकता, नमी और सुरक्षा देता है । इसमें एंटी ऑक्सीडेंट जैसे विटामिन ई का लेवल हाई होता है, जिससे त्वचा मुलायम और चिकनी दिखती है ।

ओमेगा-3 फिश ऑइल : इसे बेस्ट फैट माना जाता है । मछली के तेल में अच्छी मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है । इससे हृदय और मस्तिष्क स्वस्थ होते हैं । यह त्वचा और बालों की चमक के लिए कारगर माना जाता है ।

हैंड एंड फुट केअर : नारियल का तेल हाथ-पैरों पर नियमित लगाया जाए, तो यह महंगे फुट-हैंड क्रीम का अच्छा और सस्ता विकल्प हो सकता है । यह तेल हल्का होने की वजह से स्किन पर जल्दी जज्ब हो जाता है । पैर और हाथों की नारियल तेल से नियमित मालिश करने पर रूखी और फटी त्वचा भी मुलायम हो जाती है और रंग निखरता है । अकसर हेअर एंड बॉडी स्पा में नारियल तेल का बेस तेल के रूप में उपयोग होता है । इसमें तरहतरह की जड़ी-बूटियां आदि मिलायी जाती हैं ।

बॉडी लोशन : महंगे बॉडी लोशन की जगह नहाने के बाद ऑलिव ऑइल लगाएं और अंत में एक मग पानी में आधा नीबू का रस मिला कर बदन पर डालें, फिर पोंछ लें । इससे त्वचा खूब सॉफ्ट हो जाती है । ऑइल में चाहें, तो कुछ बूंद असेंशियल ऑइल की भी डालें । लैवेंडर, लेमन ग्रास या तुलसी असेंशियल ऑइल डाल सकती हैं ।

दाग-धब्बे दूर करें : नीम के तेल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं । इसे भी असेंशियल ऑइल में माना जाता है, इसीलिए इसे सीधे स्किन पर इस्तेमाल ना करें । इसे जैतून और बादाम के तेल में मिला कर इस्तेमाल करें । एक तिहाई कप बादाम के तेल में 1 चम्मच नीम का तेल मिलाएं । अब इसमें रुई का फाहा डुबो कर हल्के हाथों से दाग-धब्बों पर लगाएं ।

ऑइल और स्किन टाइप

अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो फाउंडेशन या प्राइमर में लैवेंडर ऑइल मिला कर लगाएं । इस तरह की त्वचा के लिए नारियल तेल भी फायदेमंद होता है । रूखी त्वचावालों के लिए बादाम का तेल ठीक रहता है । तैलीय त्वचावालों को अपनी त्वचा पर तेल लगाने से बचना चाहिए । कॉम्बिनेशन स्किन पर नारियल तेल लगाना ठीक रहता है ।

असेंशियल ऑइल : इस तरह के तेल खासतौर से पेड़-पौधों के फूल, पत्तियों, तनों और जड़ों से तैयार किए जाते हैं । असेंशियल ऑइल काफी तेज और मोटा तेल होता है । इसीलिए इसे सीधे बालों व त्वचा पर नहीं इस्तेमाल नहीं किया जाता । इससे समस्याएं हो सकती हैं । त्वचा का रंग निखरने की जगह हल्का दब भी सकता है । बेहतर और अच्छे नतीजे के लिए बेस ऑइल जैसे बादाम, जैतून, नारियल तेल में असेंशियल ऑइल की कुछ बूंदें मिला कर इस्तेमाल करें । लैवेंडर, पिपरमिंट, रोजमेरी, नीम, चंदन, टी-ट्री सबसे ज्यादा इस्तेमाल होनेवाले असेंशियल ऑइल होते हैं । तरह-तरह के स्किन प्रोडक्ट, हेअर प्रोडक्ट व सीरम में इनका इस्तेमाल किया जाता है ।

कैरिअर ऑइल : इनका उत्पादन पेड़-पौधे के फैटी हिस्से जैसे बीज में होता है । ये मोटे और हल्के पर सीधे इस्तेमाल हो सकता है । नारियल, बादाम, जैतून, तिल और सरसों के तेल कैरिअर ऑइल्स हैं । असेंशियल ऑइल्स को इन्हीं में मिला कर प्रयोग किया जाता है ।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*